• About Us Dainik DIRASHYA
  • Contact Us
  • Privacy Policy
  • Terms And Conditions/Dainik dirashya
  • June 18, 2021
  1. Home
  2. news

Category: काव्य कुंज

news
True line

True line

आँखो से आँसुओ में, मेरा प्यार बह रहा। वेबफाई का ये दर्द, मै कैसे सह रहा। दिल की ये बात,अपनी जुबां पर ना ला सका। दर्दों से भरी दासताँ,ना उनको बता सका। कैसे हैं मेरे…

काव्य कुंज
एक प्रेम की कहानी

एक प्रेम की कहानी

हार गया तुमको खोकर,जीवन का एक अंश। मन इतना कमजोर हुआ,जो झेल रहा है दंश। पुलकित था मैं तुमको पाकर,हरियाली तीज बनीं। जीवन का अंधकार मिटा कर, जीवन का प्रकाश बनी। छोड़ दिया था जिस…

0Shares
0